• September 8, 2022

जानें तुलसी का सेवन करने के फायदे ओर नुकसान!

जानें तुलसी का सेवन करने के फायदे ओर नुकसान!

इंटरनेट डेस्क। तुलसी लगभग सभी घरो में आँगन लगाया जाने वाला पौधा है , तुलसी के पौधे में अनेको औषधीय गुण पाए जाते है ,जिसके कारण हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती है आमतौर पर लोग तुलसी की पत्तियों का उपयोग चाय , काढ़ा बनाकर पीते है क्योकि इसे पिने से कई बीमारियों जैसे सर्दी, खासी , जुकाम , बुखार , वायरल इन्फेक्शन जैसी समस्याएं दूर होती है। लेकिन बहुत कम लोग ये जानते है की तुलसी स्किन इंफेक्शन भी दूर करने में सहायक है। तुलसी स्किन के दाग-धब्बों और मुंहासों को दूर करने में मददगार है। पर तुलसी के अनेको फायदे होने के साथ कुछ नुकसान भी है। तो आइये जानते है तुलसी अनेको फायदों और नुकसान के बारे में

तुलसी के फायदे

1. तुलसी में जिंक और विटामिन भरपूर मात्रा में पाए जाते है , जो की हमारी इम्यून सिस्टम मजबूत करता है शरीर को संक्रमण से बचाता है। एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-वायरल और एंटी-फंगल गुण शरीर में प्रतिरक्षा तंत्र तो मजबूत करके बीमारियों से बचाव करती है। जुकाम खासी, वायरल में तुलसी के पत्तों की चाय पीने से ये समस्याए खत्म हो जाती है।

2 तुलसी में एंटीऑक्सिडेंट , एंटीफंगल गुणपाए जाते है ऊर्जा का संचार करता, हमारे बालों को जड़ो से मजबूत बनाती है, जिससे बालों का झड़ना ,डैंड्रफ जैसी समस्याए को खत्म करती है। यदि आप भी आपके बालो के प्रास ,और झड़ने से परेशान है तो तुलसी आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित होगी।

3 – तनाव कम करने में सहायक – आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में मानसिक तनाव आम बात हो गयी है ऐसे में तनाव से राहत पाने के लिए तुलसी आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प साबित हो सकती है। तुलसी के अंदर औषधीय गुण हमे एकाग्र रखने में सहायक होता है।जिससे तनाव की स्थिति लम्बे समय के लिए काम हो जाती है अगर अधिक समय तक पढ़ाई के दौरान तुलसी से बनी चाय या कोई भी पेय पदार्थ प पीया जाए तो वह भी छात्रों के एकाग्रता बढ़ाने में सहायक होती है।

4. तुलसी की पत्तियों में खून के थक्के को पिघलने का गुण पाए जाते है। ऐसे में अगर आपको ब्लड क्लोटिंग की परेशानी है तो इसके लिए तुलसी की पत्तियों का सेवन आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है और आप खून को गाढ़ा करने वाली दवाइयों का सेवन कर रहे हैं, तो इसका अधिक मात्रा में सेवन न करें। क्योंकि इससे आपका खून और अधिक पतला हो सकता है। साथ ही अगर आप किसी तरह की दवाइयां ले रहे हैं, तो डॉक्टर या फिर आयुर्वेदाचर्य से परामर्श जरूर लें।

तुलसी के नुकसान –
– तुलसी का प्रयोग हम आमतौर पर सर्दी खांसी जुकाम में राहत पाने के लिए करते है क्योंकि इसकी तासीर गर्म होती है जिसके कारण अधिक तुलसी का सेवन हमारे स्वास्थ्य के लिए नुकसान भी होता है तुलसी के अधिक सेवन से पेट में जलन पैदा हो सकती है। इसीलिए तुलसी का सीमित मात्रा में ही सेवन करना चाहिए।

– तुलसी में यूजेनॉल पाया जाता है महिलाओं के पीरियड शुरू होने का कारण बन सकता है। तुलसी खाने से प्रेगनेंट महिला को डायरिया होने का खतरा होता हैइसके अलावा यदि स्तनपान करने वाली महिला को भी तुलसी के सेवन से बचना चाहिए। इसीलिए चिकित्सक भी प्रेगनेंट महिलाओं को तुलसी का सेवन करने की सलाह नहीं देते हैं।

-यदि आपको ब्लड क्लॉटिंग की समस्या है और आप खून को गाढ़ा करने वाली दवाइयों का सेवन कर रहे हैं, तो तुलसी अधिक मात्रा में सेवन करने से बचे । क्योकि इसके सेवन से खून और अधिक पतला हो सकता है।ऐसे में आप अपने चिकित्सक से सलाह लेकर ही इसका सेवन करे।

– तुलसी के अधिकं सेवन पुरुषो के लिए नुकसानदेह होता है क्योकि तुलसी को अधिक मात्रा में खाने से प्रजनन शक्ति कमज़ोर हो सकती है। पुरुषों में प्रजनन क्षमता की कमी हो सकती है किन्तु यह एक अस्थायी प्रभाव है जिससे पुरुषों में शुक्राणु की संख्या कम हो जाती है।

 104 total views,  2 views today

Spread the love