• August 3, 2023

मंदिर जाना गुनाह तो नहीं, मामन ने करवाई हिंसा, मोनू मानेसर के बड़े दावे

मंदिर जाना गुनाह तो नहीं, मामन ने करवाई हिंसा, मोनू मानेसर के बड़े दावे

इंटरनेट डेस्क। नूंह हिंसा (Nuh Hinsa) मामले में आरोपी बताए जा रहे मोनू मानेसर ने खुद को बेकसूर बताया है। मोनू ने सनसनीखेज दावे करते हुए स्थानीय विधायक मामन खान को इस हिंसा का मुख्य आरोपी बताया। मोनू ने बताया कि वो मेवात गए ही नहीं थे। उन्होंने आरोप लगाया कि इस हिंसा में विधायक मामन खान का हाथ है। उन्होंने आरोप लगाया कि विधायक दो महीने पहले प्याज फोड़ने की धमकी दी थी। गौरतलब है कि नूंह दंगा ( Nuh Riots) में अबतक 6 लोगों की मौत हुई है। इसके अलावा 150 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

 

‘यूट्यूबर ने बिगाड़ा मामला’

एक निजी न्यूज चैनल के साथ बातचीत में मोनू ने कहा कि किसी सनातनी का मंदिर जाना गुनाह तो नहीं है। उसने कहा कि मामन खान ने ये हिंसा कराई है। हम तो पिछले चार साल से ये यात्रा निकाल रहे हैं। इसबार उन्होंने इसपर पत्थर बरसाए। मोनू ने आरोप लगाया कि उन्हें मेवात जलाना था, वो जला दिए। जब मोनू से ये पूछा गया कि उसे शोभा यात्रा में नहीं आना था तो उसने ये पोस्ट क्यों डाली? इसपर मोनू ने कहा कि हमने कह दिया था कि हम नहीं आएंगे। कुछ यूट्यूबर ने सारा मामला खराब किया है।

 

मुझे मोहरा बनाया गया

मोनू ने दावा किया उसे इस हिंसा का मोहरा बना दिया गया है। जहां तक मेरे वीडियो की बात है तो हर यात्रा पर मेरा वीडियो बनता है। हम चार साल से ये यात्रा कर रहे हैं। हिंसा उनकी सोची-समझी साजिश थी। मोनू ने आरोप लगाया कि स्थानीय विधायक ने सब गड़बड़ी कराई है। मैं प्रशासन से अपील करता हूं कि वो विधायक को भी गिरफ्तार करें। इसके बाद मैं भी सरेंडर कर दूंगा।

जुनैद हत्याकांड पर दी सफाई

मोनू मानेसर ने जुनैद हत्याकांड को लेकर भी सफाई दी। मोनू ने कहा कि जिस दिन जुनैद की हत्या हुई उस दिन मैं गुरुग्राम में था। उनसे दावा किया कि वह अपने वकील के माध्यम से पुलिस को इस बात का सबूत भी दे चुका है। उसने दावा किया कि पुलिस को उसके खिलाफ कोई सबूत नहीं मिले हैं।

 

 284 total views,  2 views today

Spread the love