• August 12, 2023

युद्ध के समय घूस लेना देशद्रोह… यूक्रेन की भ्रष्टाचार पर बड़ी कार्रवाई, जेलेंस्की ने सेना के सभी भर्ती प्रमुखों को किया बर्खास्त

युद्ध के समय घूस लेना देशद्रोह… यूक्रेन की भ्रष्टाचार पर बड़ी कार्रवाई, जेलेंस्की ने सेना के सभी भर्ती प्रमुखों को किया बर्खास्त

इंटरनेट डेस्क। यूक्रेन के राष्ट्रपति व्लादिमीर जेलेंस्की ने भ्रष्टाचार के खिलाफ एक बड़ा कदम उठाया है। उन्होंने यूक्रेन के क्षेत्रीय सेना भर्ती केंद्रों के सभी प्रमुखों को बर्खास्त कर दिया। रूस के साथ युद्ध एक महत्वपूर्ण चरण में पहुंच गया है। इस बीच ऐसा हुआ है। यूक्रेन पर रूस के हमले को 17 महीने से ज्यादा हो चुके हैं। जेलेंस्की ने अपनी घोषणा में इन लोगों के बर्खास्तगी के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि देश की एक जांच में पूरे यूक्रेन में अधिकारियों की ओर से गलत तरीके से भर्ती और युद्ध के दौरान लोगों को देश से बाहर निकालने का खुलासा हुआ है।

युद्ध के दौरान सभी योग्य पुरुषों को देश छोड़ने की मनाही है, लेकिन लोगों को गलत तरीके से देश से निकाला गया। जेलेंस्की ने कहा कि ड्राफ्ट बोर्ड के अधिकारियों पर घूस लेने के शक में 112 मुकदमे दर्ज किए गए। उन्होंने इसे युद्ध के दौरान होने वाला भ्रष्टाचार बताया। उन्होंने कहा कि यह सिस्टम उन लोगों की ओर से चलाया जाना चाहिए जो वास्तव में जानते हैं कि युद्ध क्या है और इस दौरान संशय और रिश्वतखोरी देशद्रोह क्यों है? उन्होंने कहा कि जिन लोगों को निकाला गया है, उनकी जगह पूर्व सैनिकों और युद्ध में घायल सैनिकों को लगाया जाएगा।

रूस के हमले में बच्चे की मौत
इस बीच यूक्रेनी अधिकारियों ने कहा कि रूस के मिसाइल दागने से पश्चिमी यूक्रेन में आठ साल के एक बच्चे की मौत हो गई, जबकि रूस ने आरोप लगाया कि यूक्रेनी सेना ने ड्रोन के जरिये मॉस्को को लगातार तीसरे दिन निशाना बनाया, लेकिन इससे कथित तौर पर कोई बड़ा नुकसान नहीं हुआ है।
यूक्रेन के अभियोजक जनरल कार्यालय के अनुसार, जिस मिसाइल से लड़के की मौत हुई, वह पोलैंड की सीमा से लगभग 100 किलोमीटर (60 मील) दूर पश्चिमी यूक्रेन के इवानो-फ्रैंकिव्स्क क्षेत्र में एक घर पर गिरी।

रूस पर ड्रोन से हमला
कार्यालय ने दावा किया कि यूक्रेन की हवाई सुरक्षा प्रणाली ने राजधानी कीव पर रूस की ओर से दिन के उजाले में किए गए हमले को विफल कर दिया। स्थानीय अधिकारियों ने कहा कि रोकी गई मिसाइलों का मलबा बच्चों के अस्पताल के परिसर सहित शहर के आवासीय इलाकों पर गिरा, लेकिन इससे कोई हताहत नहीं हुआ। इस बीच, मॉस्को के मेयर सर्गेई सोबयानिन ने कहा कि रूसी वायु रक्षा प्रणालियों द्वारा रोके जाने के बाद पश्चिमी मॉस्को में एक ड्रोन गिर गया।

 

उन्होंने कहा कि घटना में किसी को चोट नहीं आई है। रूसी अधिकारियों के मुताबिक, ड्रोन करामीशेव्स्काया तटबंध पर गिरा, जो मॉस्को के व्यापारिक जिले से लगभग पांच किलोमीटर दूर है, जिस पर पूर्व में ड्रोन से दो बार हमला हुआ था। वहीं, कीव में जेलेंस्की ने कहा कि वह यूक्रेन के सभी क्षेत्रों में मसौदा बोर्ड निदेशकों को बर्खास्त कर रहे हैं। उन्होंने एक टेलीग्राम पोस्ट में कहा कि नौकरियां युद्ध के वीरों को मिलनी चाहिए, जिनमें घायल लोग भी शामिल हैं।

 394 total views,  2 views today

Spread the love