• July 5, 2023

2024 की जोरदार तैयारी: बीजेपी ने 4 राज्यों में बदले अध्यक्ष!

2024 की जोरदार तैयारी: बीजेपी ने 4 राज्यों में बदले अध्यक्ष!

बीजेपी के संगठन को आगामी विधानसभा और लोकसभा चुनाव के मद्देनजर तैयार करने और चुनाव में जुटने की रणनीति के तहत कई स्टेट में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष बदले गए हैं। पार्टी ने जिन राज्यों में पार्टी अध्यक्षों को बदला है, उनमें तेलंगाना, झारखंड, आंध्र प्रदेश और पंजाब राज्य शामिल हैं। बाबूलाल मरांडी झारखंड बीजेपी अध्यक्ष बनाए गए हैं। जी किशन रेडडी को तेलंगाना की जिम्मेदारी दी गई है। सुनील जाखड़ को पंजाब की जिम्मेदारी मिली है। डी. पुरंदेश्वरी को आंध्र प्रदेश भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया है।

 

जानिए जिन राज्यों में अध्यक्ष बदले, वहां क्या हैं समीकरण
महाराष्ट्र में मचे राजनीतिक तूफान के बीच बीजेपी ने उन राज्यों में अपने प्रदेश अध्यक्ष बदले हैं। जहां वर्तमान में बीजेपी की सरकार नहीं हैं। यहां संगठन को और ताकतवर बनाने के लिए बीजेपी ने नई रणनीति और तैयारियों के तहत इन राज्यों में प्रदेश अध्यक्ष बदलकर राज्य के कार्यकर्ताओं को सक्रिय करने और बूथ स्तर तक कार्य करने की नई जिम्मेदारी प्रदान की है। इन भूमिकाओं को निभाने के लिए इन प्रदेश अध्यक्ष को नई जिम्मेदारी के साथ काम करना होगा। फरवरी 2020 में बाबूलाल मरांडी बीजेपी में शामिल हुए थे। उन्हें नेता प्रतिपक्ष भी बनाया गया था। हालांकि बाबूलाल मरांडी जो कि पूर्व सीएम रह चुके हैं। वे शासन और प्रशासन की बारीकियों को अच्छी तरह समझते हैं। इस समय झारखंड में हेमंत सोरेन की सरकार है। ऐसे में झारखंड में आगमी लोकसभा और विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी को खासी मशक्कत करना होगी। ऐसे में बाबूलाल मरांडी का राजनीतिक अनुभव काम आएगा।

पंजाबः ‘आप‘ की आंधी में उड़ गए थे कई दिग्गज, जाखड़ के लिए कड़ी चुनौती
पंजाब की बात करें तो यहां आम आदमी पार्टी की सरकार है। ‘आप‘ की आंधी में पिछले चुनाव में अच्छे अच्छे दिग्गज हार गए थे। कांग्रेस और अकाली दल का सूपड़ा साफ हो गया था। ऐसे में आगामी लोकसभा चुनाव के लिए पंजाब में बीजेपी को नए सिरे से तैयार करने में सुनील जाखड़ की अहम भूमिका होगी। बीजेपी ने पंजाब में सुनील जाखड़ को पार्टी की कमान सौंपी है।

आंध्रप्रदेश और तेलंगाना में भी स्टेट पार्टियों से मिलेगी कड़ी चुनौती
वहीं आंध्रप्रदेश की बात करें तो यहां भी बीजेपी को लोकसभा चुनाव के लिए जोर लगाना होगा। यहां भी राज्य में न उनकी सरकार है, न उनके समर्थन की सरकार। क्योंकि चंद्रबाबू नायडू का दौर कब का बीत चुका है। ऐसे में लोकसभा चुनाव की तैयारियों के लिए बीजेपी की ओर से डी. पुरेंदेश्वरी को जिम्मेदारी दी गई है। सबसे बड़ा उलटफेर तेलंगाना में हुआ है, जहां भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश अध्यक्ष बंदी संजय कुमार को हटा दिया है। उनकी जगह केंद्रीय मंत्री जी किशन रेड्डी को जिम्मेदारी दी गई है। बंदी संजय कुमार जमीन पर काफी सक्रिय थे, लेकिन बताया जाता है कि वो संगठन को एक साथ लेकर चलने में असफल रहे। इसी वजह से पार्टी ने ये फैसला लिया।

 108 total views,  2 views today

Spread the love