• April 15, 2022

जानें कोरोना को लेकर Delhi सरकार की गाइडलाइन, स्कूलों के लिए SOP, मास्‍क फिर होगा जरूरी?

जानें कोरोना को लेकर Delhi सरकार की गाइडलाइन, स्कूलों के लिए SOP, मास्‍क फिर होगा जरूरी?

इंटरनेट डेस्क। दिल्ली में कोरोना के मामले फिर बढ़ने लगे हैं. दिल्‍ली में कोविड के मामले बढ़ने का ट्रेंड जारी रहा तो पाबंदियां लौट सकती हैं। गुरुवार को पहली बार राजधानी के किसी स्‍कूल से कोरोना केस मिले। नोएडा और गाजियाबाद के स्‍कूलों में भी संक्रमण तेजी से फैला है। एनसीआर के स्कूलों में कोरोना के मामले सामने आने के बाद दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जरूरत पड़ी तो स्‍कूलों के लिए एसओपी जारी की जाएगी। गाइडलाइन के मुताबिक अगर स्कूल में एक भी कोरोना मामला मिले तो स्कूल को बंद कर दिया जाए, या फिर उस विंग को बंद करने की तैयारी रहे. जारी गाइडलाइन के मुताबिक अगर स्कूल में कोई भी कोरोना पॉजिटिव मामला मिले तो तुरंत DoE को इसकी जानकारी देनी होगी.

वहीं स्कूल की उस विंग या फिर पूरे स्कूल को भी फौरन बंद करना होगा. जोर देकर कहा गया है कि स्कूल में छात्रों और शिक्षकों को मास्क पहनना होगा, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा, नियमित रूप से हाथ धोने होंगे और कोरोना को लेकर जागरूकता फैलानी होगी. वैसे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ये भी कहा है कि जरूरत पड़ने पर स्कूलों के लिए अलग से SOP जारी की जा सकती है. अब जानकारी के लिए बता दें कि अभी दिल्ली में कोरोना के मामले फिर तेजी से बढ़ने लगे हैं. स्थिति ऐसी है कि एक दिन में ही मामले दोगुने से भी ज्यादा दर्ज किए जा रहे हैं. कल राजधानी में कोरोना के 299 मामले सामने आए थे. इस सब के अलावा कुछ स्कूलों में भी कोरोना ने फिर अपनी दस्तक दी थी.

बता दे की इसी वजह से अब आज दिल्ली सरकार की तरफ से स्कूलों के लिए ये गाइडलाइन जारी की गई है. कहा जा रहा है कि चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है. लेकिन सरकार की इस नसीहत के बीच कोरोना के नए सबवैरिएंट ने सभी को परेशान कर दिया है. ओमिक्रॉन का ही सबवैरिएंट माने जाने वाला X तेजी से फैलने की क्षमता रखता है. अभी तक मुंबई और गुजरात में इस वैरिएंट के मामले सामने आ चुके हैं. सरकार के मुताबिक स्थिति पर उनकी पैनी नजर बनी हुई है.

 511 total views,  2 views today

Spread the love