Travel Tips: आप भी माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने का कर रहे हैं प्लान तो इन जरूरी बातों का रखें खास ध्यान !

Travel Tips: आप भी माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने का कर रहे हैं प्लान तो इन जरूरी बातों का रखें खास ध्यान !

हम सभी अच्छी तरह जानते हैं कि नेपाल में स्थित माउंट एवरेस्ट दुनिया का सबसे ऊंचा पहाड़ है यहां पर ट्रेकिंग का सपना लगभग सभी लोगों का होता है लेकिन इस पर चढ़ना इतना आसान काम नहीं है आपको बता दें कि इस पहाड़ की ऊंचाई 8849 मीटर है लेकिन कहा जाता है ना कि किसी भी जगह पर जाने से पहले वहां की तस्वीर को अच्छी तरह से समझ लेना चाहिए अक्सर लोग बिना उस जगह की जानकारी के ही उस जगह पर घूमने के लिए निकल जाते हैं जिसकी वजह से आगे चलकर उनको कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है ऐसे में अगर आप भी अब माउंट एवरेस्ट पर चलने का प्लान बना रहे हैं तो इस लेख के माध्यम से आपको इसकी पूरी जानकारी बताने वाले हैं आपको बता दें कि यह कोई आम ट्रैक नहीं है यहां पर आपको अपनी जान को जोखिम में डालकर लगभग 130 किलोमीटर चलकर इस ट्रैक को पूरा करना होगा। लेकिन हां जब माउंट एवरेस्ट आपके सामने होगा तो आप अपनी पूरी थकान को भूल जाने वाले है। आइए जानते है इसके बारे में विस्तार से –

* इस तरह करें अपनी पैकिंग :

आपको बता दें कि बेस कैंप में जाने से पहले आप अपनी सारी पैकिंग कर ले जिससे आखिरी वक्त पर किसी चीज को भूले नहीं। एवरेस्ट बेस कैंप ट्रेक पर आपके लिए दो बैग ले जाना ठीक रहेगा एक छोटा बैग जो कि ट्रैक करते समय आपके पास रहेगा और दूसरा आपका रग्सैक जो पोर्टर ऊपर तक पहुंचाएंगे। आपको बता दें कि आप अपने इस बैग में धूप से बचाने वाली क्रीम, प्रोटीन चॉकलेट, पानी की बोतल, रेन कोट, जैकेट, टी शर्ट, ट्रेकिंग पैंट्स, ग्लव्स और टोपी आदि सामान रख सकते है। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि इन बैग्स का वजन 10 किलो से ज्यादा ना हो।

* कितने पैसे होते हैं खर्च :

अगर आप भी इस बार माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने का प्लान बना रहे हैं तो आप अपनी जेब को अच्छी तरह से ढीली करने के लिए तैयार हो जाए आपको ऐसी कई सारी ट्रेवल कंपनियां मिल जाएगी जो आपको यहां पर ले जाने का पैकेज ऑफर करती है जिसके लिए आपको 50 हजार से 1 लाख रुपए खर्च करने पड़ सकते हैं. और अगर आप पहली बार ट्रेकिंग के लिए जा रहे हैं तो किसी ट्रेवल कंपनी के साथ ही जाना आपके लिए बेस्ट होगा। यहां पर आपको बता दें कि पैकेज के अलावा भी आपको पैसे खर्च करने पड़ सकते हैं जैसे काठमांडू से परमिट लेने के लिए फीस या फिर काठमांडू से लुक्ला तक का प्लेन का किराया आदि के लिए।

* लगता है कितना समय :

आपको बता दें कि बेस कैंप तक जाने के लिए आपको 12 से 15 दिनों का समय लग जाता है इस ट्रैक पर 13 दिनों में लोगों को 130 किलोमीटर पैदल चलना होता है आपको बता दें कि ट्रैक पर जाने के लिए अप्रैल से जून और सितंबर से लेकर दिसंबर तक का समय बेस्ट माना जाता है।

* इन जरूरी बातों का रखें खास ध्यान :

1. अपने पास पैसे जरूर रखें
2. ट्रैवल इनश्योरेंस जरूर करवा लें।
3. अपने साथ कुछ दवाइयां ज़रूर रख लें।
4. ट्रेक करते समय वेजेटेरियन खाना ही खाएं।
5. ट्रेकिंग पर जाते समय फिल्टर वाली बोतल अपने पास रखें अगर यह बोतल आपके पास नहीं है तो आप पानी साफ करने वाली टेबलेट अपने पास जरूर रखें।

 98 total views,  2 views today

Spread the love