Travel Tips: इस बार घूमने के लिए अफ्रीका के सबसे बड़े और फेमस शहर टिंबकटू को करें डेस्टिनेशन लिस्ट में शामिल !

Travel Tips: इस बार घूमने के लिए अफ्रीका के सबसे बड़े और फेमस शहर टिंबकटू को करें डेस्टिनेशन लिस्ट में शामिल !

आपने भी टिंबकटू शहर का नाम कई बार किससे और कहानियों में जरूर सुना होगा कई लोग इसे मालगुड़ी की तरह ख्याली शहर ही मानते हैं। लेकिन आपको बता दें कि कल्पना वाला टिंबकटू वाकई में एक शहर है दरअसल यह पश्चिमी अफ्रीकी देश माली में मौजूद है टिंबकटू अफ्रीका के सबसे पुराने शहर में से एक माना जाता है। सदियों से इसका नाम हमारे सामने लिया जाता आ रहा है यह शहर सहारा रेगिस्तान में यात्रियों और तीर्थ यात्रियों तथा विद्वानों की मंजिल रहा है।

आपको बता दें कि 12 वीं सदी में यह शहर छोटा सा व्यापारिक केंद्र था जिसे दुनियाभर से खूब शोहरत मिली। जानकारी के लिए बता दे कि आज इस शहर में करीब 35000 लोग रहते हैं। अफ्रीका का यह शहर इतिहास और संस्कृति तथा रोमांच में दिलचस्पी रखने वाले लोगों को अपनी तरफ काफी आकर्षित करता है। टिंबकटू की सबसे अहम पहचानों में जिंगारेबेर मस्जिद भी एक है।

* टिंबकटू शहर का इतिहास :

बता दें कि टिंबकटू शहर पांचवी शताब्दी से बना था। यहां पर तुआरेग लोग आए। और इसी के बाद यह शहर अपने अस्तित्व में आया समय के साथ-साथ यह शहर व्यापार के एक महत्वपूर्ण केंद्र के रूप में विकसित होता गया जो पश्चिम अफ्रीका को उत्तरी अफ्रीका और यूरोप से जोड़ता था। आपको बता दें कि 15वीं और 16वीं शताब्दी के दौरान टिंबकटू में इस्लामी तालीम का केंद्र मौजूद था और इस दौरान यहां पर कई यूनिवर्सिटी और मस्जिदों तथा मदरसे होने के बारे में भी पता चलता है।

* तुआरेग लोगों का म्यूजियम :

स्थानीय संस्कृति में रुचि रखने वाले लोग तुआरेग म्यूजियम में घूमने का प्लान कर सकते है। इस म्यूजियम में आपको तुआरेग लोगों की पारंपरिक जीवन शैली और संस्कृति के बारे में जानने का मौका मिलेगा। यहां पर आपको इन लोगों के कपड़े और गहने तथा दूसरी कलाकृतियां भी देखने को मिलेंगी यहां पर आने वाले लोग म्यूजिक और डांस परफॉरमेंस जैसे सांस्कृतिक कार्यक्रमों में भी हिस्सा ले सकते हैं। इसके अलावा यहां पर आने वाले लोग सहारा मरुस्थल में कैमल राइड का भी लुफ्त उठा सकते हैं।

* नहीं आते पर्यटक :

क्या आपने कभी सोचा है कि ख्यालों में घूमने वाला शहर अगर सच में हो तो आप उसे घूमना चाहेंगे लेकिन टिंबकटू शहर के साथ ऐसा नहीं है बेशक यह अफ्रीका के सबसे बड़े शहरों में से एक है लेकिन सुरक्षा कारणों की वजह से यहां पर अंतरराष्ट्रीय पर्यटक घूमने के लिए नहीं आते हैं। लेकिन आपको बता दें कि स्थानीय पर्यटक इस शहर को घूमने के लिए आते हैं साल 2012 में टिंबकटू पर जिहादियों का कब जा रहा था और इस दौरान आपको बता दें कि यूनेस्को के सरंक्षण में रहने वाली कई इमारतों को पूरी तरह से खत्म कर दिया गया था।

 114 total views,  2 views today

Spread the love