Travel Tips: सख्त नियम है हिमाचल प्रदेश की ऐसी जगह जहां पर लोगों को छूना हे मना, गलती होने पर लगता है भारी जुर्माना !

Travel Tips: सख्त नियम है हिमाचल प्रदेश की ऐसी जगह जहां पर लोगों को छूना हे मना, गलती होने पर लगता है भारी जुर्माना !

इस बात को हम सभी अच्छी तरह जानते हैं कि हम सभी किस ने किसी परंपरा या रीति रिवाज में विश्वास करते हैं यह हमारी संस्कृति के प्रतिबिंब को दर्शाते हैं लेकिन कई बार हमारे मन में इनकी वजह से तमाम तरह के सवाल खड़े हो जाते हैं। हाल ही में अनुभव गुप्ता के एक इंस्टाग्राम यूजरनेम एक वीडियो शेयर किया है। जिसको देखकर आपके मन में कई तरह के सवाल पैदा होने लगेंगे क्योंकि इस वीडियो में आप देख सकते हैं कि कैमरा पकड़े हुए एक शख्स दुकानदार से चिप्स का एक पैकेट और जूस की बोतल तथा कुछ नींबू मांगता हुआ नजर आ रहा है। और इसके बाद दुकानदार सारा सामान दुकान के बाहर फर्श पर रख देता है और इस सामान के पैसे मांगता है यह शख्स ₹50 के नोट को फर्श पर रखता है जिसको दुकानदार उठाता है यानी दोनों ही लोग एक दूसरे को फिजिकली रूप से टच नहीं करते हैं।

 

* कसोल में नहीं है टूरिस्टो को छूने की अनुमति :

आपको बता दें कि सोशल मीडिया पर वायरल यह वीडियो हिमाचल प्रदेश के कसोल के मलाणा गांव का है जहां पर एक अजीबोगरीब मान्यता है। बताया जाता है कि यहां के लोग प्रेरकों और बाहरी लोगों को कुछ भी छूने की इजाजत नहीं देते हैं। आपको बता दें कि इस वीडियो को 7 लाख से भी ज्यादा बार देखा जा चुका है। इस वीडियो को शेयर करते हुए इंस्टाग्राम यूजर ने लिखा है कि मलाना गांव – जहां उनकी अनुमति के बिना कोई उन्हें या उनके सामान को छू नहीं सकता। यहां के लोग मिलनसार है लेकिन बाहरी लोगों से कहा जाता है कि वह अपनी दूरी बनाए रखें और गांव में किसी भी चीज को छूने की गलती ना करें।

बताया जाता है कि यहां पर रहने वाले लोगों के अनुसार इस गांव पर एक बुरी आत्मा का साया था। जिसको लेकर लोगों का मानना है कि देवी देवताओं और दानवों के बीच लड़ाई के बाद देवता युद्ध जीत गए जिसके परिणाम स्वरूप मलाणा गांव के यह गांव अस्तित्व में आया। यहां पर दुकानदार आपको बिना किसी फिजिकल संपर्क के काउंटर पर पैसे और सामान रखने के लिए कहते हैं। अगर गलती से किसी इंसान के फिजिकल कांटेक्ट में आ जाते हैं तो वह तुरंत नहाने के लिए चले जाते हैं।

* मलाना गांव में है ये सख्त नियम :

आपको बता दें कि कसोल के मलाना गांव में आने वाले पर्यटकों और बाहरी लोगों के लिए अलग-अलग नियम है इस गांव में सख्त नियम बनाए गए हैं। इन नियमों के अनुसार किसी भी अजनबी या बाहरी व्यक्ति को इस गांव का सामान को छुने के लिए इजाजत नहीं दी गई है। एक ट्रेवल वेबसाइट के अनुसार यह नियम उनके मंदिरों पर भी लिखा हुआ है और आप मंदिरों की दीवार को भी छू नहीं सकते हैं। अगर आपने गलती से किसी चीज को छू लिया तो आपसे 2,500 रुपए का भारी जुर्माना भी वसूल किया जा सकता है।

 77 total views,  2 views today

Spread the love