Vastu Tips: वास्तु शास्त्र के अनुसार भूलकर भी घर की इस दिशा में ना करवाएं पीला रंग, सेहत पर पड़ता है बुरा प्रभाव

Vastu Tips: वास्तु शास्त्र के अनुसार भूलकर भी घर की इस दिशा में ना करवाएं पीला रंग, सेहत पर पड़ता है बुरा प्रभाव

हम सभी अच्छी तरह जानते हैं कि वास्तु शास्त्र और मैं दिशाओं के साथ-साथ रंगों का भी खास महत्व बताया गया है अगर वास्तु शास्त्र के हिसाब से घर का निर्माण करवाया जाता है तो कई समस्याओं से छुटकारा मिल सकता है इसके अलावा अगर आपका घर वास्तु के हिसाब से ना हो तो आपको कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार पीला रंग शुभ माना गया है पीले रंग को शुभ अवसरों पर इस्तेमाल किया जाता है ऐसा कहा जाता है कि पीला रंग घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार करता है पीले रंग की वजह से आपके घर में शांति और खुशहाली आने लगती है इस लेख के माध्यम से आपको बताते हैं पीले रंग से जुड़े वास्तु नियमों के बारे में विस्तार से –

* वास्तुशास्त्र के नियमों के अनुसार घर में पीले रंग के फूलों से सजावट करना अच्छा माना गया है ऐसा कहा जाता है कि घर में पीले रंग के फूलों से सजावट करने से सकारात्मक ऊर्जा का संचार बढ़ता है और आपके घर में शांति का माहौल बना रहता है।

* वास्तु शास्त्र के अनुसार बेडरूम की दीवारों पर पीला रंग करने से पति पत्नी के रिश्ते में मिठास बनी रहती है और दांपत्य जीवन में सुख मिलता है।

* पीले रंग के फूलों के अलावा दीवारों पर नीला कलर भी सकारात्मक ऊर्जा का केन्द्र माना जाता है।

* पीले रंग से जुड़ी इन बातों का रखें ध्यान :

1. वास्तु शास्त्र के अनुसार घर के दक्षिण पूर्व दिशा में पीले रंग का पेंट नही करवाना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से किस रंग से जुड़ी दिसावर के तत्वों को हानि होती है इसलिए भूलकर भी इस दिशा में पीला रंग ना करवाएं।

2. वास्तु नियमों के अनुसार कभी भी ईशान दिशा में भी पीला रंग ना करवाएं। क्योंकि इस इस दिशा से जुड़े तत्व को अग्नि कोण में पीला रंग करवाने से हानि होती है।

3. वास्तु शास्त्र के अनुसार दक्षिण पूर्व दिशा में कभी भी पीला रंग नहीं करवाना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से माता को हानि पहुंचती है।

4. वास्तु शास्त्र के अनुसार कभी भी गहरे पीले रंग का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए पीले रंग के साथ रेड कलर का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए।

 276 total views,  2 views today

Spread the love