• September 5, 2022

कैसे पाए फ्रैक्चर हड्डी के दर्द में राहत, जानें उपाय

कैसे पाए फ्रैक्चर हड्डी के दर्द में राहत, जानें उपाय

इंटरनेट डेस्क। हमारा शरीर हड्डियों के ढांचे पर टिका हुआ है और हड्डियो का मजबूत होना बहुत जरुरी है लेकिन एक बार यदि हड्डी टूट जाए तो वो जीवन भर की सजा बन जाती है हड्डी फ्रैक्चर होने के बाद भले ही कितना ही अच्छा और महंगा इलाज करवा ले , लेकिन दर्द से राहत मिलना मुश्किल होता है. फ्रैक्चर के बाद हमारी मसल्स में सूजन आ जाती है, जिसकी वजह से फ्रैक्चर वाली जगह असहनीय दर्द होता है. आज हम आपको कुछ ऐसे तेलो के बारे बतांएगे जिनकी मालिश से आपको हड्डियों के दर्द में आराम मिलेगा। , आइए जानते हैं हड्डी का दर्द होने पर कौन-कौन से तेलों की मालिश करनी चाहिए.

1. जैतून के तेल को गुणों की खान कहना गलत नहीं होगा , अधिकतर लोग खाना जैतून का तेल इस्तेमाल करते है इसके अलावा बालो से संबंधित समस्या से छुटकारा पाना हो , या नाखुनो को चमकदार बनाना हो जैतून का तेल बहुत ही फायदेमंद होता है जैतून का तेल हड्डियों की मजबूत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसमें एंटी ऑक्सीडेंट्स जैसे कई गुणकारी तत्व पाए जाते हैं जो हड्डियों को मजबूत बनाते हैं. जैतून के तेल हल्का सा गुनगुना गर्म करके हड्डियों की मालिश करने से मसल्स की सूजन और ऐंठन की समस्या दूर हो जाती है, हड्डियों के दर्द में भी राहत मिलती है।
तिल का तेल

2. तेल के तेल का भी बहुत लोग खाना उपयोग लेते है सलाद सब्जी बनाने में , सूप में आदि में इस्तेमाल करते है क्योकि टिल का तेल बहुत ही शरीर के लिए तिल के तेल के औषधीय गुणों में से एक एंटी-इंफ्लेमेटरी भी है। जिसके तिल के तेल का इस्तेमाल शरीर की सूजन संबंधी समस्याओं को दूर करने मेंअसरदार होता है ।इस तेल को हल्का गुनगुना करके फ्रैक्चर वाली जगह पर मालिश करनी चाहिए। इसका उपयोग बहुत लोग बच्चो की मालिश करने में भी इस्तेमाल करते है।

3. नीलगिरि का तेल भी हाडियो को के दर्द में बहुत लाभकारी है क्योकि में कई औषधीय गुण समाहित हैं, जो दर्द से राहत देने में कारगर हैं. नीलगिरी के तेल में एंटी इंफ्लामेंट्री प्रॉपर्टी पाई जाती है, नीलगिरि के तेल की मालिश से मासपेशियो की सूजन होती है है.और हड्डियों के दर्दे भी गायब हो जाता है।

 95 total views,  2 views today

Spread the love