• April 1, 2022

April Fool’s Day: जानिए क्यों मनाया जाता है ‘अप्रैल फूल डे’,

April Fool’s Day: जानिए क्यों मनाया जाता है ‘अप्रैल फूल डे’,

अप्रैल महीने की 1 तारिक को ‘अप्रैल फूल डे’ यानि की मुर्ख दिवस मनाया जाता है. इस दिन को शरारत , हंसी मजाक वाला दिन कहते है क्योकि इस दिन लोग अपने दोस्तों और घर वालों को बेवकूफ बनाकर खुश होते हैं। और शरारत करने का कोई भी मौका नहीं छोड़ते है और अप्रैल फूल डे मनाते हैं. अच्छी बात यह है की ऐसे मजाकों का लोग बुरा नहीं मानते हैं बल्कि हंस-हंसाते और एंजाय करते हैं. अप्रैल फूल डे पर किए गए मजाक को लोग एंजाय करते हैं.लोग इस दिन को फेसबुक , व्हाट्सअप पर भी चुटकुलों, मैसेजस के जरिये लोगो को बेवकूफ बनाते है और इस दिन को एंजॉय करते है। आइए जानते है इस दिन को कब से मनाया जा रहा है, कैसे और क्यों हुई इसकी शुरुआत।

अप्रैल फूल डे से जुड़ी कहानियां:

इस दिन को लेकर कई कहानियां प्रचलित हैं लेकिन इसके कोई ठोस प्रमाण नहीं हैं. कई जगह कहा गया है कि इसकी शुरुआत 1392 में हुई थी. कहीं कहा जाता है कि इस दिन की शुरुआत फ्रांस में 1582 में उस वक्त हुई, जब पोप चार्ल्स 9 ने पुराने कैलेंडर की जगह नया रोमन कैलेंडर शुरू किया था. ‘अप्रैल फूल डे’ अप्रैल फूल डे 19 वीं शताब्दी से ही बहुत फेमस है, पर यह देश में किसी सार्वजनिक अवकाश के तौर पर नहीं मनाया जाता है. यूक्रेन के ओडेसा में अप्रैल का इस पहले दिन आधिकारिक अवकाश मनाया जाता है।

मुर्ख दिवस ( अप्रैल फूल्स डे ) कहा कैसे मनाया जाता है.

वेसै तो इस सामान्य तोर से हंसी मजाक , शरारत करके मनाया जाता है। परन्तु फिर भी अलग – अलग देशो में इसे अलग तरीके से मनाया जाता है जैसे की फ्रांस, इटली, बेल्ज‍ियम में कागज की मछली बनाकर लोगों के पीछे चिपका दी जाती है और मजाक बनाया जाता है.स्पेनिश बोलने वाले देशों में 28 दिसंबर को अप्रैल फूल मनाया जाता है, जिसे डे ऑफ होली इनोसेंट्स कहा जाता है.ईरानी फारसी नववर्ष के 13वें दिन एक-दूसरे पर तंज कसते हैं, यह 1 या 2 अप्रैल का दिन होता है. डेनमार्क में 1 मई को यह मनाया जाता है और इसे मज-कट कहते हैं

 598 total views,  2 views today

Spread the love