Health Care Tips: बच्चों में काफी तेजी से बढ़ रहे हैं डेंगू के मामले, इन लक्षणों से करें इसकी पहचान !

Health Care Tips: बच्चों में काफी तेजी से बढ़ रहे हैं डेंगू के मामले, इन लक्षणों से करें इसकी पहचान !

वर्तमान समय में देखा जाता है कि हर कोई बीमारियों का शिकार होता जा रहा है दरअसल इस मौसम में बीमारियां और संक्रमण का खतरा काफी ज्यादा बढ़ जाता है। मानसून के मौसम में कहीं बीमारियां अपने पांव पसारने लगती है डेंगू भी इन्हीं बीमारियों में से एक खतरनाक बीमारी है इसके मामले वर्तमान समय में देश में काफी तेजी से बढ़ते जा रहे हैं ऐसे में छोटे बच्चों को बुखार आना माता-पिता के लिए चिंताजनक होता है। इन दोनों बच्चे वायरस से लेकर डेंगू जैसे खतरनाक बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं ऐसे में जरूरी है कि समय रहते बच्चों में उनकी पहचान करके उनका इलाज कराया जाए। आइए इस लेख के माध्यम से आपको बताते हैं बच्चों में डेंगू के दिखाई देने वाले लक्षणों के बारे में –

* बहुत तेज सिरदर्द :

अगर आपके बच्चे को शरीर के अलग-अलग हिस्सों में परेशानी या दर्द का अनुभव हो रहा है तो यह डेंगू का संकेत हो सकता है कि तू डेंगू से प्रभावित बच्चों को सिर दर्द और आंखों के पीछे हल्का दर्द तथा मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द की समस्या होने लगती है।

* तेज बुखार :

बुखार आना डेंगू का एक सामान्य लक्षण है अगर आपके बच्चे को 10 5 डिग्री फॉरेनहाइट तक बुखार हो रहा है तो हो सकता है कि आपका बच्चा डेंगू का शिकार हो गया हो बुखार के अलावा फ्लू जैसे लक्षण जिनमें नाक बहना, खांसी और कमजोरी आ रही है तो ये भी डेंगू के लक्षण हो सकते हैं।

* त्वचा पर चकत्ते :

डेंगू की बीमारी होने पर अक्सर त्वचा पर खुजली दर दाने होने लगते हैं जो किसी चकत्ते की तरह दिखाई देते हैं। इसके अलावा पैरों के तलवों पर लगातार खुजली होना भी बच्चों में डेंगू का लक्षण हो सकता है।

* उल्टीयां आना :

डेंगू होने पर अक्सर बच्चों में उल्टी की समस्या देखने को मिलती है अगर आपके बच्चे को भी लगातार कुछ भी खाने के बाद तुरंत उल्टी आ रही है या फिर उन्हें किसी भी चीज को निगलने में समस्या हो रही है तो हो सकता है कि आपको बच्चा डेंगू का शिकार हो चुका हो।

* ब्लीडिंग होना :

डेंगू बुखार होने पर कई बच्चों को ना किया मसूड़े से खून आने की समस्या भी हो सकती है अगर आपको भी अपने बच्चों में इस तरह के लक्षण नजर आ रहे हैं तो आप बच्चे को तुरंत डॉक्टर के पास ले जाए और उसकी जांच कराएं।

 84 total views,  2 views today

Spread the love