• May 3, 2022

जोधपुर में जालोरी गेट से भीड़ ने भगवा झंडा हटाया, दो समुदायों के बीच हिंसक झड़प, इंटरनेट बंद

जोधपुर में जालोरी गेट से भीड़ ने भगवा झंडा हटाया, दो समुदायों के बीच हिंसक झड़प,  इंटरनेट बंद

नई दिल्ली। ईद (Eid) के मौके पर सीएम अशोक गहलोत के गृहनगर जोधपुर (Jodhpur) में दो पक्षों में बवाल हो गया है. सोमवार आधी रात को झंडे लगाने की बात पर हुये इस बवाल के बाद दोनों पक्षों में जमकर पत्थर चले. इससे करीब एक दर्जन लोग लहूलुहान हो गये. बाद में मौके पर पहुंची पुलिस और आरएसी ने मोर्चा ने संभाला और लाठीचार्ज कर भीड़ को वहां से खदेड़ा. इस दौरान रात करीब 1 से 3 बजे तक शहर के बीचबीचों पत्थर बरसते रहे. हालात को देखते हुये प्रशासन को आधी रात को ही पूरे जोधपुर जिले में आगामी आदेश तक मोबाइल इंटरनेट बंद करने के आदेश जारी करने पड़े. मौके पर भारी संख्या में पुलिस जाब्ता तैनात किया गया है.

 

बता दे की जोधपुर में इन दिनों 3 दिवसीय परशुराम जयंती महोत्सव चल रहा है. उसी कड़ी में जोधपुर के जालौरी गेट चौराहे पर स्वर्गीय बालमुकंद की बिस्सा के चौराहे पर भगवा ध्वज फहराए गए थे.भगवा ध्वज फरहाने को लेकर कुछ आपत्ति के बाद प्रशासन ने ब्राह्मण समाज से अनुरोध कर सोमवार को दोपहर में भगवा ध्वज उतरवा लिए लेकिन रात होते-होते अल्पसंख्यक वर्ग के लोगों ने स्वतंत्रता सेनानी के प्रतिमा पर चढ़कर ध्वजा लगाकर उनके चेहरे को टेप से ढक दिया था.

मामले को लेकर स्वर्गीय स्वतंत्रता सेनानी बालमुकुंद बिस्सा (Balmukund Bissa) के रिश्तेदार और अन्य लोगों ने अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों से समझाइश कर इस्लामिक ध्वजा उतारने का अनुरोध किया और तभी अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों ने हिंदू संगठनों के लोगों पर हमला कर दिया और बुरी तरह से उन्हें पीटा.

 751 total views,  2 views today

Spread the love