• December 27, 2021

तालिबान सरकार का फरमान, पुरुष रिश्तेदार के बिना लंबी यात्रा पर नहीं जा सकती महिलाएं

तालिबान सरकार का फरमान, पुरुष रिश्तेदार के बिना लंबी यात्रा पर नहीं जा सकती महिलाएं

नई दिल्ली। अफगानिस्तान में तालिबान की वापसी के बाद महिलाओं के मानवाधिकारों के हनन की बात सामने आती रही है। अफगानिस्तान में अब  महिलाओं के लंबे सफर पर जाने को लेकर तालिबान ने अपना असली रंग पूरी दुनिया को दिखा दिया है। जानकारी के लिए बता दे की अफगानिस्तान (Afghanistan) के तालिबान (Taliban) अधिकारियों ने रविवार को कहा कि कम दूरी को छोड़कर लंबी दूरी की यात्रा करने वाली महिलाओं को अकेले यात्रा की इजाजत नहीं दी जाएगी. महिलाओं के साथ किसी करीबी पुरुष रिश्तेदार के होने पर ही उन्हें लंबी दूरी तक यात्रा करने की इजाजत दी जाएगी.

 

मिनिस्ट्री फॉर द प्रमोशन ऑफ वर्चु एंड प्रीवेंशन ऑफ वाइस’ द्वारा जारी दिशा-निर्देशों में कहा गया है कि सभी वाहन मालिक केवल उन्हीं महिलाओं को अपने वाहन में बैठकर यात्रा करने दें, जिन्होंने इस्लामिक हिजाब पहना हो. इस तरह एक बार फिर साफ हो गया है कि तालिबान महिलाओं को लेकर क्या विचार रखता है. मंत्रालय के प्रवक्ता सादिक अकिफ मुहाजिर (Sadiq Akif Muhajir) ने समाचार एजेंसी एएफपी से कहा, ’72 किलोमीटर से अधिक की यात्रा करने वाली महिलाओं को सवारी की पेशकश नहीं की जानी चाहिए, अगर उनके साथ परिवार का कोई करीबी सदस्य नहीं है.

उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि करीबी सदस्य पुरुष ही होना चाहिए. बता दे की ये दिशा-निर्देश ऐसे समय पर आया है, जब कुछ हफ्ते पहले ही तालिबान ने अफगानिस्तान के टेलीविजन चैनलों को महिलाओं वाले सीरियल और फिल्मों को दिखाने पर रोक लगा दी थी. मंत्रालय ने ये भी कहा था कि महिला टीवी पत्रकारों को न्यूज पढ़ते समय हिजाब पहनना होगा.

 

 658 total views,  2 views today

Spread the love