• May 30, 2022

मरने से पहले Sidhu Musewala ने अपने गाने में किया था मौत का जिक्र, जानें

मरने से पहले Sidhu Musewala ने अपने गाने में किया था मौत का जिक्र, जानें

नई दिल्ली। एक पंजाबी गीत दो हफ्ते में तेजी से वायरल हो रहा है और उसको सुनने वालों की संख्या भी लाखों में पहुंच रही है. यह गीत सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Musewala) ने वाजिर रैपर के साथ मिलकर 15 मई को रिलीज किया था, शायद उस वक्त उन्हें नहीं पता था कि यह उनकी जिंदगी का आखिरी गीत है और इस गीत के बोल सच होने वाले हैं. यह गीत था “ओह चौबर दे चेहरे उत्ते नूर दसदां नी, एहदा उठेगा जवानी विच जनाजा मिठ्ठिये” और जिदगी का खेल देखिए कि महज, दो सप्ताह बाद ही सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Musewala) की गोलियां मारकर हत्या कर दी गई.

 

गीत के बोलों से यह लगता है कि सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Musewala) ने यह गीत खुद पर ही गाया था, जिसमें वह कहते हैं कि चौबर यानी गबरू जवान के चेहरे पर काफी नूर दिख रहा है और इसका जनाजा जवानी में ही निकलने वाला है. यह गीत रविवार को हकीकत में बदल गया और सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Musewala) सदा के लिए गहरी नींद सो गया. सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Musewala) के कुछ फैंस ने इस गाने की एल्बम के कवर को सोशल मीडिया पर शेयर किया है जिसपर एक BMW की तस्वीर है जिसमे 1996 में यू एस के मशहूर रैपर टुपैक शाकुर (Tupac Shakur) सफर कर रहे थे और उन्हें भी इसी तरहं गोलीयों से भून दिया गया था.

तो क्या यह मानना सही होगा कि सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Musewala) को धमकियां मिल रही थी और उन्हें क्या इस बात का इलम हो गया था कि अब वो बच नहीं पाएंगे. आपको बता दें कि सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Musewala) की जिंदगी को खतरा था यह बात पंजाब की खुफिया व सुरक्षा एजेंसियों को पता था. 16 सितंबर, 2020 को जालंधर में दो बदमाश पकड़े गए थे, जिन्होंने पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Musewala) से भी फिरौती के 50 लाख मांगने थे और मना करने पर दोनों ने सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Musewala) की गोली मारकर हत्या करने की योजना बनाई थी.

 657 total views,  2 views today

Spread the love