• December 7, 2021

डॉ. त्रेहन ने बताया- भारत में कब पीक पर होगा Omicron का खतरा?

डॉ. त्रेहन ने बताया- भारत में कब पीक पर होगा Omicron का खतरा?

नई दिल्ली। कोरोना वायरस का नया वेरिएंट ओमिक्रॉन भारत में दस्तक दे चुका है. ओमिक्रॉन का ट्रांसमिशन रेट भारत में दूसरी लहर के लिए जिम्मेदार डेल्टा वेरिएंट से तीन गुना ज्यादा है. यानी ये वायरस 3 गुना तेजी से लोगों को संक्रमित कर सकता है. वायरस कब पीक पर होगा और इसका खतरा कब तक टल सकता है? इस विषय पर मेदांता के चेयरमैन डॉक्टर नरेश त्रेहन (Naresh Trehan) ने विस्तार से जानकारी दी है.

डॉ. नरेश त्रेहन (Naresh Trehan) ने कहा, ओमिक्रॉन कोरोनावायरस सितंबर-अक्‍टूबर से ही फैला हुआ है. इसका अभी तक कोई सबूत नहीं है. डॉ. त्रेहन ने कहा पहले के दोनों वैरिएंट पर नजर दौड़ाए और उनकी रफ्तार के साथ ओमिक्रॉन के पीक का अनुमान लगाया जाए तो नया वैरिएंट जनवरी के पहले या दूसरे हफ्ते में पीक पर होगा. ऐसी संभावना हैं कि ये लहर फरवरी तक समाप्त हो जाएगी. हालांकि अभी तक इस बात का अंदाजा नहीं लगाया जा सका है कि ओमिक्रॉन वैरिएंट कितना खतरनाक होगा.

ओमिक्रॉन वैरिएंट के क्‍या हैं लक्षण :-

बहुत ज्यादा थकान
हल्का सिरदर्द
पूरे शरीर में दर्द
गले में खराश
सूखी खांसी

दक्षिण अफ्रीका के डॉक्टर्स ने ओमिक्रॉन से संक्रमित मरीजों में अत्यधिक थकान, मांसपेशियों में दर्द, गले में खराश और सूखी खांसी जैसे लक्षणों पर गौर किया. कुछ मरीजों में तेज बुखार भी देखा गया है.

 508 total views,  2 views today

Spread the love