• July 6, 2022

Himachal Rain: कुल्लू में बादल फटने से तबाही, किन्नौर में भूस्खलन होने से एनएच-5 बंद

Himachal Rain: कुल्लू में बादल फटने से तबाही, किन्नौर में भूस्खलन होने से एनएच-5 बंद

नई दिल्ली। हिमाचल प्रदेश में बारिश ने तबाही मचा रखी है। कुल्लू जिले के मणिकर्ण में बादल फटने से भारी नुकसान हुआ है। भारी बारिश की वजह से बाढ़ के हालात बन गए. लिहाजा कई गांवों में बाढ़ का पानी घुसने से घर तबाह हो गए हैं. कई प्रोजेक्ट्स को नुकसान पहुंचा है. इतना ही नहीं, मणिकर्ण में भी टूरिस्ट कैंप डैमेज हो गए हैं.

स्थानीय छलाल पंचायत के प्रधान चुनी लाल के मुताबिक बादल फटने से चोज में एक होमस्टे, कैंपिंग साइट और एक पैदल पुल बाढ़ की चपेट में आने से बह गया है। हादसे में चार लोग भी बह गए हैं। सभी लोग कामगार बताए जा रहे हैं। वहीं, किन्नौर जिले में भूस्खलन होने की वजह से एनएच-5 बंद हो गया है। फिलहाल हाईवे को खोलने के लिए टीम लगी हुई है।

जानकारी के अनुसार, मणिकर्ण और कसोल के बीच बुधवार सुबह करीब 5 बजे बादल फटने के घटना हुई। इसके अलावा जिला कुल्लू के अंतर्गत मणिकर्ण घाटी की पार्वती नदी के सहायक नाले चोज गांव में बुधवार सुबह पानी एकाएक बढ़ गया। इस वजह से पार्वती नदी के किनारे स्थित एक कैंपिंग साइट पूरी तरह से तबाह हो गई है। केपिंग साइट से कुछ लोगों के लापता होने की सूचना है।पार्वती नदी का जलस्तर भी उफान पर है और पूरी पार्वती घाटी में अफरा-तफरी का माहौल है। पीछे पहाड़ी में बादल फटने से तबाही मची है। पार्वती नदी के किनारे स्थित पर्यटकों के लिए कैंपिंग साइट बनाई गई थी, यह बह गई है।

 352 total views,  2 views today

Spread the love