• August 17, 2022

नीतीश कुमार के कानून मंत्री अगवा केस को लेकर विवादों में, CM ने दिया ये बयान

नीतीश कुमार के कानून मंत्री अगवा केस को लेकर विवादों में, CM ने दिया ये बयान

इंटरनेट डेस्क। बिहार में नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की नई सरकार के एक मंत्री कार्तिकेय सिंह को लेकर अब नया बवाल खड़ा हो गया है. बिहार के कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह (Kartikeya Singh) के खिलाफ अपहरण के एक मामले में राजद एमएलसी सिंह (MLC Singh) के खिलाफ वारंट जारी हुआ था. उन्हें 16 अगस्त को कोर्ट में सरेंडर करना था, लेकिन वह कोर्ट नहीं पहुंचे. हालांकि, उन्होंने उसी दिन कानून मंत्री की शपथ ली. हालांकि, कार्तिकेय सिंह (Kartikeya Singh) और उनके वकील का दावा है कि इस मामले में उन्हें कोर्ट से अग्रिम जमानत मिल गई है.

जानकारी के लिए बता दे की साल 2014 में राजीव रंजन (Rajiv Ranjan) की किडनैपिंग हुई थी इसके बाद कोर्ट ने इस मामले में संज्ञान लिया था और कार्तिकेय सिंह (Kartikeya Singh) को आरोपी बनाया गया था. मास्टर साहब के नाम से मशहूर कार्तिकेय सिंह (Kartikeya Singh) बाहुबली अनंत सिंह के करीबी माने जाते हैं. कार्तिकेय सिंह (Kartikeya Singh) ने इस मामले पर कहा, ‘हलफनामे में सब दिया हुआ है. उसमें कोई इस तरह की बात नहीं है.’ वहीं, नीतीश कुमार (Nitish Kumar) से जब इस बारे में सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि उन्हें इस मामले में कोई जानाकरी नहीं है.

सरकार बदलने के बाद BJP काफी आक्रामक हो गई है और नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की नई सरकार को जंगल राज की वापसी का नाम दे रही है.भाजपा सांसद सुशील कुमार मोदी (Sushil Kumar Modi) ने कहा, ‘अगर कार्तिकेय सिंह (Kartikeya Singh) (राजद) के खिलाफ वारंट था तो उन्हें सरेंडर कर देना चाहिए था. लेकिन उन्होंने कानून मंत्री के रूप में शपथ ली है. मैं नीतीश से पूछता हूं कि क्या वह बिहार को लालू के जमाने में वापस ले जाने की कोशिश कर रहे हैं? कार्तिकेय सिंह को तत्काल हटाना जाना चाहिए.’

 459 total views,  2 views today

Spread the love