• May 16, 2022

SBI के ग्राहकों का लोन और महंगा होगा, एक माह में दूसरी बार बढ़ाई ब्याज दर

SBI के ग्राहकों का लोन और महंगा होगा, एक माह में दूसरी बार बढ़ाई ब्याज दर

नई दिल्ली: भारत के सबसे बड़े बैंक एसबीआई ने एक बार फिर MCLR (मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड बेस्ड लैंडिग रेट) में वृद्धि कर दी है. नई दरें 15 मई यानी रविवार से ही लागू हो गई हैं. भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपनी सीमांत लागत आधारित ऋण दर (MCLR) में 0.1 प्रतिशत की बढ़ोतरी की है. इस कदम से कर्ज लेने वालों के लिए EMI बढ़ेगी. देश के सबसे बड़े बैंक ने एक महीने में दूसरी बार MCLR में बढ़ोतरी की है, और दोनों बार मिलाकर अब तक 0.2 प्रतिशत की वृद्धि हुई है.

भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा इस महीने की शुरुआत में रेपो दर को 0.40 प्रतिशत बढ़ाकर 4.40 प्रतिशत कर दिया था. इसके बाद एसबीआई ने यह बढ़ोतरी की. SBI द्वारा उधार दर में संशोधन के बाद अनुमान है कि आने वाले दिनों में दूसरे बैंक भी ऐसा करेंगे. इस वृद्धि के साथ उन ग्राहकों की EMI बढ़ जाएगी, जिन्होंने MCLR पर कर्ज लिया है, हालांकि अन्य मानकों से जुड़े कर्ज की ईएमआई नहीं बढ़ेगी.

 

SBI की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के अनुसार संशोधित MCLR दर 15 मई से प्रभावी है. इस संशोधन के बाद एक साल की एमसीएलआर 7.10 फीसदी से बढ़कर 7.20 फीसदी हो गई है. ज्यादातर कर्ज एक साल की MCLR दर से जुड़े होते हैं. एक रात, एक महीने और तीन महीने की MCLR 0.10 प्रतिशत बढ़कर 6.85 फीसदी हो गई, जबकि छह महीने की MCLR बढ़कर 7.15 फीसदी हो गई.

 566 total views,  2 views today

Spread the love