• July 13, 2022

Lucknow Dog Attack: बेटे के पालतू Pitbull ने ली मां की जान, बचने के लिए मालकिन ने किया था संघर्ष

Lucknow Dog Attack: बेटे के पालतू Pitbull ने ली मां की जान, बचने के लिए मालकिन ने किया था संघर्ष

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के कैसरबाग के बंगाली टोला में मंगलवार सुबह रिटायर्ड शिक्षिका सुशीला त्रिपाठी (82) की उनके घर में पल रहे पिटबुल डॉग ने नोंच खाया, जिससे उनकी मौत हो गई। सुशीला त्रिपाठी (Sushila Tripathi) परिवार के साथ कैसरबाग के बंगाली टोला में रहती थीं। वह नारी शिक्षा निकेतन में शिक्षिका के पद से सेवानिवृत्त हुई थीं। कुत्ते ने इस तरह काटा था कि महिला का मांस तक अलग हो गया था. उस दौरान महिला घर में अकेली थी. उनका जिम ट्रेनर बेटा जिम गया हुआ था. महिला के पति की पहले ही मौत हो चुकी है.


मृतक सुशीला त्रिपाठी (Sushila Tripathi) कैसरबाग के बंगाली टोला इलाके में परिवार के साथ रहती थीं. मृतक महिला का बेटा अमित त्रिपाठी अलीगंज स्थित कपूरथला पर जिम में ट्रेनर है. हिंसक नस्ल के पिटबुल के अलावा घर में एक और पालतू कुत्ता लैब्राडोर है. जानकारी के मुताबिक, सुशीला त्रिपाठी (Sushila Tripathi) पिटबुल को छत पर टहला रही थीं. इसी बीच पिटबुल के गले में बंधी हुई चेन खुल गई. फिर उसने अचानक सुशीला त्रिपाठी (Sushila Tripathi) पर हमला कर दिया. कुत्ते ने ऐसा काटा था कि शरीर से मांस तक अलग हो गया था. उस दौरान घर पर कोई नहीं था.बुजुर्ग सुशीला त्रिपाठी (Sushila Tripathi) अपनी जान बचाने के लिए चीख रही थीं लेकिन वह खुद को पिटबुल के चंगुल से नहीं छुड़ा पाईं. पिटबुल के काटने से उनका पेट, सिर और चेहरा बुरी तरह लहुलूहान हो गया था.

बाद में जब नौकरानी घर आई तो सुशीला त्रिपाठी (Sushila Tripathi) को जमीन पर लहुलुहान देखकर हैरान रह गई. उसने अमित को फोन किया. वह फटाफट जिम से घर आया और खून से लथपथ मां को हॉस्पिटल लेकर गया. लेकिन वहां उनको बचाया नहीं जा सका. डॉक्टर्स ने बताया कि ज्यादा खून बहने की वजह से महिला की मौत हुई.इस मामले पर ADCP पश्चिमी जोन चिरंजीवी नाथ सिन्हा (Chiranjeevi Nath Sinha) के मुताबिक, पुलिस के पास कोई तहरीर नहीं आई है और आगे कोई शिकायत देता है तो कार्यवाही की जाएगी.

 477 total views,  2 views today

Spread the love