• November 29, 2023

राजीव जैन ने आज छाप लिए पैसे, एक दिन में अडानी के शेयरों से 3000 करोड़ कमाई

राजीव जैन ने आज छाप लिए पैसे, एक दिन में अडानी के शेयरों से 3000 करोड़ कमाई

इंटरनेट डेस्क। मंगलवार को अडानी ग्रुप (Adani Group) की कंपनियों के शेयरों में जोरदार तेजी देखने को मिली. कारोबार के दौरान ये 20 फीसदी तक उछल गए. Adani Stocks में आई तेजी से जहां ग्रुप का मार्केट कैपिटलाइजेशन बढ़ा है, तो कंपनी के शेयरों में निवेश करने वाले दिग्गज निवेशक GQG Partners के राजीव जैन (Rajiv Jain) की भी जबरदस्त कमाई हुई है. उन्होंने शेयर मार्केट में हुए कुछ ही घंटों के कारोबार में 3000 करोड़ रुपये कमा डाले. गौरतलब है कि राजीव जैन ने अडानी ग्रुप की छह लिस्टेड कंपनियों में मोटा पैसा लगाया हुआ है. बता दें सुप्रीम कोर्ट द्वारा अडानी-हिंडनबर्ग मामले में अपना फैसला सुरक्षित रखने के बाद कंपनी के शेयर तूफानी तेजी से भागे हैं.

6 कंपनियों में राजीव जैन ने लगाया पैसा
राजीव जैन (Rajiv Jain) के नेतृत्व वाले जीक्यूजी पार्टनर्स (GQG Parteners) ने मंगलवार को शेयर बाजार में कारोबार के दौरान 3,000 करोड़ रुपये का प्रॉफिट कमाया है. गौतम अडानी की कंपनियों के शेयरों में आए उछाल से निवेशक को ये फायदा हुआ है. कॉर्पोरेट डेटाबेस ऐसइक्विटी से जुटाए गए डेटा से पता चलता है कि राजीव जैन ने Stock Market में लिस्टेड अडानी ग्रुप की 10 में से छह बड़ी कंपनियों में पैसा लगाया हुआ है. इनमें अडानी पावर लिमिटेड (Adani Power Ltd), अडानी एनर्जी सॉल्यूशंस लिमिटेड (Adani Energy Solutions Ltd), अडानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड (Adani Enterprises), अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड (Adani Green Energy Ltd), अडानी पोर्ट्स एंड एसईजेड (Adani Port’s) और अंबुजा सीमेंट्स (Ambuja Cement) में निवेश किया है.

एक दिन में इतना बढ़ा GQG का निवेश
AceEquity के आंकड़ों के मुताबिक, जीक्यूजी पार्टनर्स द्वारा Gautam Adani की कंपनियों में किया गया कुल निवेश बीते शुक्रवार को 27,998.08 करोड़ रुपये था, जो कि मंगलवार को शेयर बाजार में कारोबार खत्म होने पर बढ़कर 31,000 करोड़ रुपये हो गया है. अगर हिस्सेदारी के बारे में देखें तो 30 सितंबर 2023 तक GQG की अडानी पावर लिमिटेड में 1.28 फीसदी, अदानी एनर्जी सॉल्यूशंस लिमिटेड में इनकी 2.49 फीसदी हिस्सेदारी थी. जीक्यूजी पार्टनर्स से संबंधित दो फंडों के पास Adani Enterprises में संयुक्त 2.74 फीसदी की हिस्सेदारी थी. इसके अलावा अडानी ग्रीन एनर्जी, अदानी पोर्ट्स और अंबुजा सीमेंट्स तीनों कंपनियों में GQG की 1.8 फीसदी से 3.6 फीसदी तक हिस्सेदारी है.

बुरे समय में दिया था अडानी का साथ
बीते साल 2022 में दुनिया के तमाम अमीरों को पीछे छोड़ते हुए गौतम अडानी (Gautam Adani) सबसे ज्यादा कमाई बाले अरबपति बनकर उभरे थे, लेकिन इस साल की शुरुआत में बीते 24 जनवरी 2023 को अमेरिकी शॉर्ट सेलर फर्म हिंडनबर्ग (Hindenburg) की रिपोर्ट पब्लिश होने के बाद उन्हें कुछ ही महीनों में 60 अरब डॉलर का घाटा हुआ था. इस बुरे समय में GQG के राजीव जैन ने अडानी ग्रुप का साथ देते हुए बड़ा निवेश किया था.

राजीव जैन ने अडानी की चार कंपनियों में मार्च 2023 में 15,446 करोड़ रुपये लगाए थे. इसके बाद उनका निवेश और भरोसा बढ़ता गया. मई 2023 में उन्होंने अपनी हिस्सेदारी में 10 फीसदी का इजाफा कर दिया था. उसके बाद जीक्यूजी ने जून महीने में अडानी एंटरप्राइजेज और अडानी ग्रीन एनर्जी में फिर से करीब 8,265 करोड़ रुपये का निवेश किया था. उसी महीने जीक्यूजी ने अडानी ट्रांसमिशन के करीब 1.9 फीसदी शेयरों को 1,676 करोड़ रुपये में खरीदा था. अपने निवेश से उन्हें मुनाफा भी जोरदार हो रहा है.

ग्रुप का मार्केट कैप 11 लाख करोड़ के पार
अडानी ग्रुप की कंपनियों के शेयरों में तेजी के चलते ग्रुप का मार्केट कैप भी बढ़ता जा रहा है और ये 11 लाख करोड़ रुपये के ऊपर पहुंच गया है. गौरतलब है कि बीते 24 जनवरी 2023 को जब हिंडनबर्ग की रिपोर्ट पब्लिश हुई थी तब समूह का मार्केट कैप 19.19 लाख करोड़ रुपये था. हालांकि, अभी भी ये करीब 40 फीसदी कम है. यहां बता दें कि हिंडनबर्ग ने अडानी ग्रुप पर शेयरों की कीमतों में हेर-फेर करने और कर्ज को लेकर 88 गंभीर आरोप लगाए थे और इसका निवेशकों के सेंटिमेंट पर बुरा असर पड़ा था. कंपनी के शेयर उस समय 85 फीसदी तक टूट गए थे.

 80 total views,  2 views today

Spread the love