• July 23, 2022

दूर होगा दुनिया का खाद्य संकट: 5 महीने के युद्ध के बाद पहली बार रूस-यूक्रेन में समझौता

दूर होगा दुनिया का खाद्य संकट: 5 महीने के युद्ध के बाद पहली बार रूस-यूक्रेन में समझौता

इंटरनेट डेस्क। रूस (Russia) और यूक्रेन (Ukraine) के बीच चल रहे युद्ध (War) का आज (शनिवार को) 150वां दिन है. इस बीच अच्छी खबर ये है कि इस युद्ध में पहली बार रूस (Russia) और यूक्रेन (Ukraine) के बीच एक मुद्दे को लेकर समझौता हुआ है, वो मुद्दा जो ना सिर्फ अफ्रीकी बल्कि दक्षिण अमेरिकी देशों के साथ-साथ कई और देशों को भी राहत पहुंचाएगा. पर क्या इस समझौते को युद्ध के खत्म होने की ओर बढ़ने वाला कदम माना जाए या फिर रूस (Russia) अब यूक्रेन को लेकर अपनी जिद पर अड़ा रहेगा. रूस (Russia) ने यूक्रेन की जमीन पर जब से अपने कदम रखे, खारकीव, मरियुपोल, ओदेसा और ना जाने कितने शहर अब खंडहर हो चुके हैं. तस्वीरें ये बताने के लिए काफी हैं कि 149 दिनों में किस तरह से रूस (Russia) ने यूक्रेन (Ukraine) के शहरों को दिन रात घाव दिए हैं.

 

युद्ध में अब तक तो दोनों देशों के बीच ना जाने कितनी ही मुलाकातें हुईं लेकिन बात किसी भी समझौते तक नहीं पहुंची. पर अब शायद समझौते का रास्ता ही दोनों देशों को रास आ रहा है. शुक्रवार को दोनों देशों ने एक समझौता किया, जिसके तहत अब ब्लैक सी में फंसे अनाज के जहाजों को दुनियाभर में सप्लाई के लिए जाने दिया जाएगा. वो जहाज जो अब तक इस युद्ध की वजह से यूक्रेन के बंदरगाहों पर फंसे हुए थे. इस समझौते पर रूस के रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगु (Sergei Shoigu) और यूक्रेन (Ukraine) के आवास और शहरी मामलों के मंत्री ओलकजान्डर कुबराकोव (Oleksandr Kubrakov) ने हस्ताक्षर किए.

 

गौरतलब है कि युद्ध में अब तक तो दोनों देशों के बीच ना जाने कितनी ही मुलाकातें हुईं, लेकिन बात किसी भी समझौते तक नहीं पहुंची. पर अब शायद समझौते का रास्ता ही दोनों देशों को रास आ रहा है. शुक्रवार को दोनों देशों ने एक समझौता किया. अब काला सागर में फंसे अनाज के जहाज वहां से निकल सकेंगे.

 502 total views,  2 views today

Spread the love