• July 5, 2022

शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से हो सकती है यह बड़ी परेशानी

शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से हो सकती है यह बड़ी परेशानी

लाइफस्टाइल। कोलेस्ट्रॉल एक मोम जैसा पदार्थ होता है जो लिवर में बनता है और शरीर के हर हिस्से में पाया जाता है. हमारे शरीर में दो तरह का कोलेस्ट्रॉल पाया जाता है एक गुड कोलेस्ट्रॉल और दूसरा बैड कोलेस्ट्रॉल. अगर बात बैड कोलेस्ट्रॉल की करें तो यह हमारी आर्टरीज में जमा हो सकता है. जिससे कई तरह की बीमारियां होने लगती हैं. कोलेस्ट्रॉल एक बार बढ़ जाए तो हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है. ऐसे में इससे निपटने के लिए तमाम तरह के टिप्स मार्केट में मौजूद है, लेकिन कुछ लोगों में अलग-अलग विचार होते हैं. हमारे शरीर को हेल्दी सेल्स बनाने के लिए कोलेस्ट्रॉल की जरूरत होती है लेकिन शरीर में इसकी मात्रा ज्यादा होने से कई तरह की हृदय संबंधित बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है.

बता दे की शरीर में कोलेस्ट्रॉल का लेवल फैटी फूड खाने, एक्सरसाइज ना करने , ओवरवेट होने, स्मोकिंग और ड्रिंक करने के कारण बढ़ता है. कई बार यह जेनेटिक भी होता है. शरीर में कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने के कोई संकेत नहीं दिखते लेकिन इसकी वजह से कई तरह की गंभीर बीमारियां हो सकती हैं. आर्टरीज में कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ने से शरीर के अलग-अलग हिस्सों में क्रैंप (ऐंठन) की दिक्कत का सामना भी करना पड़ता है. यह पेरिफेरल आर्टरी डिजीज (PAD) का एक संकेत भी हो सकता है. जो शरीर में कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ने से होती है.

आपकी जानकारी के लिए बता दे की हाई कोलेस्ट्रॉल के चलते रक्त कोशिकाओं में फैट जमा होने लगता है और समय के साथ ये फैट और भी ज्यादा बढ़ जाता है जिससे कोशिकाओं में ब्लड का फ्लो काफी कम हो जाता है और एक समय के बाद रुक जाता है. कुछ मामलो में यह फैट छोटे-छोटे क्लॉट्स में टूट जाता है और ब्लड फ्लो को पूरी तरह से रोक देता है जिससे हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा बढ़ जाता है. इस प्रकार हाई कोलेस्ट्रॉल नर्वस सिस्टम और हार्ट को सबसे अधिक प्रभावित करता है.

 388 total views,  2 views today

Spread the love